VPN क्या है?

VPN-KYA-HAI

Virtual Private Network?

हम सभी मोबाइल तो यूज़ करते ही हैं ।और आज हमारी जिंदगी का हिस्सा बन गया है। जरा भी कोई बात हो हम अपने मोबाइल का ही जल्दी से जल्दी सर्चकरते हैं। चाहे कोई भी चीज सर्च करनी हो हम इंटरनेट पर सर्च करके उसे प्रमाणित भी कर लेते हैं ।लेकिन इंटरनेट की दुनिया बहुत छोटी नहीं है ।इंटरनेट समंदर से भी गहरा है और यह बात बिल्कुल सही है। आज हम बात करेंगे आपसे खास टॉपिक पर ।आज हम आपसे बात करेंगे अक्सर आपने सुना होगा VPN तो आज हम आपसे बात करेंगे कि VPN क्या होता है? और इसका यूज़ क्या होता है। और भी ढेर सारी आपको जानकारी देंगे। आपने एक चीज और सुनीहोगीIP ।अक्सर यह कहा जाता है आपके मोबाइल का आईपी एड्रेस क्या है ? इसके बारे में भी हम आपको जानकारी देंगे कि आईपी एड्रेस क्या होता है ? तू अगर आप नहीं जानते कि वीपीएन क्या होता है और आईपी एड्रेस क्या होता है ? तो उसकी जानकारी आपको बस आपके एक क्लिक पर मिलेगी।ऐसी ही आर्टिकल के लिए आप हमें फॉलो करना ना भूलें  है ।आपको बता दें हमने ऐसे कई आर्टिकल लिखे हैं कि आप घर बैठे ऑनलाइन अर्निंग कर सकते हैं वह भी आप आर्टिकल पढ़ सकते हैं।

VPN KYA HAI?

आपने ऐसे बहुत से सॉफ्टवेयर देखे होंगे VPN बाले है। और ऐसे कई बार आपने सुना होगा कि क्या तुमने VPN का उपयोग किया है? तो अक्सर आपके मन में आया होगा कि आखिर यह VPN  है क्या? तो आपके इस सवाल का जवाब देंगे।लेकिन उससे पहले आपसे कुछ जरूरी बात करेंगे।  आज के वक्त में इंटरनेट की दुनिया इतनी बड़ी हो गई है ।और हर वक्त है गलत हैकर और सोशल मीडिया के जो गलत उपयोग करने वाले लोग हैं। वह हमेशा इस ताक में रहते हैं कि कैसे कोई गलती हो औरसामने वाले को हम नुकसान पहुंचा सकें। आपने देखा होगा कई बार कुछ लोगों की वेबसाइट हैक कर ली जाती है। अकाउंट हैक कर लिए जाते  हैं ।और यह होता है अपनी आईडेंटिटी को ना छुपाने के कारण। धोखे में हम अपनी पर्सनल डीटेल्स को सबके सामने पेश कर देते हैं। या अपनी पर्सनल डिटेल्स को सबके सामने शो कर देते हैं। जिससे हमें मुश्किल होती है ।और इन सब से बचने के लिए हम वीपीएन का उपयोग करते हैं।

VPN एक प्रकार का वर्चुअल नेटवर्क होता है जोकि आपकी आइडेंटी को छुपाता है। उसको यूज़ करके आप अपनी आइडेंटिटी को छुपा सकते हैं। इसका कुछ लोग मिस यूज भी करते हैं। कुछ लोग इसका कुछ गलत कामों के लिए भी  यूज करते हैं ।साथ ही में कुछ लोग इसका अच्छा उपयोग के लिए भी करते हैं। जैसे कि हर सिक्के के 2 पहलू होते हैं। वैसे ही इसके भी दो पहलू हैं। लेकिन हमें  इसका गलत उपयोग नहीं करना चाहिए। इसके द्वारा आप अपनी आइडेंटिटी को छुपा सकते हैं। अपनी पर्सनल डिटेल्स को भी छुपा सकते हैं कि आप कहां से हैं। इसके लिए बहुत से फ्री सॉफ्टवेयर भी आता है।लेकिन यह भी उतना सेफ नहीं है ।क्योंकि अगर आप कोई पेड सॉफ्टवेयर लेते हैं तो ही आपके लिए बेनिफिट है।

VPN  का पूरा नाम क्या है?

आपको बता दें VPN का पूरा नाम Virtual Private Network है।

VPN का यूज़ कैसे करे

इसका उपयोग करना कठिन नहीं है बहुत ही आसानी से आप इसका उपयोग कर सकते हैं ।हम यहां आपको बताएंगे कि आप कैसे अपने एंड्रॉयड फोन में इसका उपयोग कर सकते हैं। सबसे पहले आपको अपने गूगल प्ले स्टोर पर जाना होगा। गूगल प्ले स्टोर पर जाने के बाद आपको वहां पर सर्च करना है VPN ।सर्च करने के बाद आपके सामने कई सारे ऐप्स आपके सामने आ जाएंगे। अब आपको यह देखना है कि आकोकौन सी ऐप सेलेक्ट करनी है ।आपको जो भी सही लगे वह डाउनलोड कर ले ।उसके बाद आपको उस को इंस्टॉल करना है। आपको जिस कंट्री से अपने सरवर को जोड़ना है वह कंट्री आप चुन  कर सकते हैं। यहां ध्यान रखने वाली बात हम आपसे यही कहेंगेकी हो सके तो अगर आप इसका उपयोग कर रहे हैं तो आपको एक पेड सॉफ्टवेयर लें तो ज्यादा अच्छा है ।ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि कई तरीके के ऐसे सॉफ्टवेयर हैं जो कि आपको प्राइवेसी को प्रोटेक्ट करने से ज़्यादा आपकी प्राइवेसी को और फैलाते हैं। तो इसलिए उन्हीं ऐप पर भरोसा करिए जो कि सही है। ऐसी बहुत सी ऐप है जो आप को नुकसान पहुंचा सकती हैं। तो अगर हो सके तो पेडसॉफ्टवेयर ले सकते हैं। और अगर नहीं हो रहा है तो आप फ्री वाला भी ले सकते हैं। लेकिन उसको आराम से और उस पर सर्च करके ही यूज करें। क्योंकि आप प्रॉब्लम ना फंस जाएं इसलिए हम आपको बता रहे हैं।अब हमने आपको बता दिया कि यह क्या होता है और उसको कैसे यूज कर सकते हैं आप और अब हम बात करेंगे कि आई पी क्या होता है?

IP  क्या है?

आपने अक्सर यह तो सुना ही होगा कि आई पी एड्रेस का यूज करके किसी को आसानी से पकड़ा जा सकता है। और अक्सर पुलिस भी मुजरिमों को पकड़ने के लिए IP ADDRESS का प्रयोग करती है। क्योंकि यह एक यूनिक नंबर होता है। और यह आपकी आइडेंटी बताता है । IP की फुल फुल फॉर्म इंटरनेट प्रोटोकॉल एड्रेस होता है। किसी भी डिवाइस को इंटरनेट से कांनेक्ट करने के लिए IP की ज़रूरत होती है इसके बिना किसी भी डिवाइस में इंटरनेट नहीं चलाया जा सकता।  जैसे मोबाइल, लैपटॉप आदि इन सभी को इंटरनेट चलने के लिए IP की ज़रूरत होती है।  IP एक तरह से आपके डिवाइस की पहचान होती है जिससे है जिससे हर इंटरनेट चलाने वाले की पहचान की जाती है।

अगर यह आर्टिकल आपको पसंद आया हो तो इस आर्टिकल को अपने फ्रेंड्स फैमिली मेंबर्स के साथ जरूर शेयर करें ।

आपने अपना कीमती और बहुमूल्य समय दिया इसके लिए आपका बहुत-बहुत धन्यवाद।

नमस्कार।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *